जाने मोगरा के फूल को उगाने के टिप्स | Mogra Flower in Hindi – Mogra Ka Phool Kaisa Hota Hai


Mogra Flower in Hindi - Mogra Ka Phool Kaisa Hota Hai

जाने मोगरा के फूल को उगाने के टिप्स | Mogra Flower in Hindi – Mogra Ka Phool Kaisa Hota Hai

दुनिया में बहुत सी खूबसूरत चीज होती है। पर इन खूबसूरत चीज़ों में फूल सबसे सुन्दर, मनमोहक और सबसे सुगन्धित होते है। इन सुन्दर फूलों में से किसी एक के बारे में बात करना बहुत मुश्किल है।

आज हम अपने इस ब्लॉग में एक ऐसे ही फूल के बारे में बात करेंगे जो है “मोगरा का फूल” (Mogra Flower in Hindi)। हम इस ब्लॉग में आपको (Mogra ka phool Kaisa hota hai) मोगरा का फूल कैसा होता है, मोगरा के फूल को कैसे उगाए और मोगरा के फूल की देखभाल कैसे करें, इन सब बातों के बारे में जानेंगे।


मोगरा फूल के अन्य नाम ( Mogra Flower Hindi Name) मालती, मलिका, बेला
जैविक नाम: Jasminum sambac
पौधे का परिवार ओलिएसी (Oleaceae)
मोगरा के पौधे की ऊंचाई 180 cm से 3 मीटर तकटे
सूर्य की रोशनी की आवश्यकता 4 घंटे की सूरज की रोशनी
मोगरा को बढ़ाने के लिए तापमान? 15 डिग्री से 26 डिग्रीा
किस क्षेत्र में उगाया जाता है: तमिल नाडु, उत्तराखंड, महाराष्ट्र, ओर्रिसा
ब्लूमिंग टाइम गर्मियों में
मोगरा का प्रसिद्ध नाम: अरेबियन जैस्मिन (Arabian Jasmine)

मोगरा के फूल को घर में कैसे उगाएं? - How to Grow Mogra Flower at Home in Hindi

मोगरा का फूल (Mogra ka Phool) लगाने से पहले कुछ खास बातों का ध्यान रखना जरूरी होता है। अगर आप मोगरा का फूल उगाने से पहले आप कुछ ख़ास बातों का ध्यान रखेंगे तो आपका मोगरा का फूल जल्दी और अच्छी तरह से उगेगा।

याद रखने की ख़ास बातें (Key Points to Remember)

मोगरा का फूल कैसा होता है? - Mogra ka Phool Kaisa Hota Hai

Mogra Flower in Hindi - Mogra Ka Phool Kaisa Hota Hai

मोगरा के फूल को अरेबियन जैस्मिन (Arabian Jasmine) के नाम से भी जानते है। यह एक खूबसूरत और सुगन्धित फूल होता है। इसका (Scientific Name) साइंटिफिक नाम Jasminum sambac होता है। मोगरा का पौधा 0.5 – 3 मीटर की हाइट तक बढ़ सकता है जिसे ज्यादा देखभाल की जरूरत नहीं होती है।

Mogra Flower Hindi Name – मोगरा को हिंदी में मालती, बेला और मल्लिका कहते है।

मोगरा का पौधा ज्यादातर बरसात और गर्मी के मौसम में अच्छे से खिलता है। यह फूल (Philippines) फिलीपींस का राष्ट्रीय फूल है। मोगरा का फूल (Mogra ka Phool) सफ़ेद रंग की पंखुड़ियों से बना होता है जो दिखने में आकर्षक होता है।

इस फूल को इंडिया, पाकिस्तान, भूटान, हिमालय और दक्षिण पूर्व एशिया में उगाया जाता है। इस फूल को संस्कृत में मल्लिका या मालती कहते है। इसका इस्तेमाल शादी में सजावट के किया जाता है।

गमले में मोगरा के फूल को उगाने का स्टेप्स - Steps to grow Mogra flower in pot in Hindi

How to Grow Mogra Flower in Hindi

यहाँ हम आपको मोगरा के फूल (Mogra ka Phool) को गमले में कैसे उगाए, ये बताने जा रहे है –

Step 1:

आप मोगरा के पौधे के बीच अपने नजदीकी दुकान से ला सकते है या आप इसे पुराने पौधे से कटिंग कर के बना सकते है। आप दूसरे मोगरा के पौधे से 5 से 6 इंच की कटिंग निकाल ले।

Step 2:

इस कटे हुए पौधे को आप या तो रूटिंग हॉर्मोन के माध्यम से उगाए या इसे आप नार्मल मिट्टी में कम्पोस्ट मिला के भी ऊगा सकते है।

Step 3:

कम्पोस्टिंग तैयार कर के आप इसे गमले में भर दे।

Step 4:

कटिंग किये हुए पार्ट को आप पहले पानी में भिगो लें (2 घंटे) फिर इसमें रूटिंग हॉर्मोन डालें जो की मार्केट में आसानी से मिल जाता है।

Step 5:

रूटिंग हार्मोन डालने के बाद इसे डायरेक्ट गमले की मिट्टी या कम्पोस्टिंग में लगा दे।

Step 6:

कटिंग लगाने के बाद आप इसमें थोड़े पानी का छिड़काव कर दें। ध्यान रखें की पानी का छिड़काव कम मात्रा में ही करें।

Step 7:

अगर पानी सूख जाए तो थोड़ा और पानी का छिड़काव समय से करें।

Step 8:

पौधा लगाने के बाद इसे सिर्फ 3 से 4 घंटे ही धुप में रखें। अगर धुप तेज है तो सिर्फ 2 से 3 घंटे ही धुप में रखें।

नोट – मोगरा के फूल में पूरी तरह से जड़ आने में 2 से 3 महीने लग सकते है।

मोगरा के फूल की देखभाल कैसे करें? - How to take care of Mogra flower in Hindi

ऐसे तो मोगरा के पौधे का ज्यादा ध्यान नहीं रखना होता है पर आपको कुछ ख़ास बातों का ध्यान रखना होगा जिससे मोगरे के फूल अच्छी तरह से खिले। मोगरा के फूल का ध्यान रखने के लिए आपको कुछ ख़ास बातों का ध्यान रखना होगा, जैसे की –

मोगरा के फूल का इस्तेमाल कहाँ होता है? - Uses of Mogra Flower in Hindi

मोगरा के फूल का प्रयोग कहाँ किया जाता है?

भारत में मोगरा के फूल का इस्तेमाल कई काम के लिए किया जाता है। यह फूल सुगन्धित होने के साथ – साथ खूबसूरत भी होते है जिसकी वजह से इनका ज्यादा इस्तेमाल किया जाता है। मोगरा के फूल कुछ इस्तेमाल है –

मोगरा के फूल से जुड़े अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न (FAQ)

मोगरा के फूल को उगाने के लिए गर्म मौसम की आवश्यक होती है। मोगरा का फूल सबसे अच्छा 15 से 30 डिग्री सेल्सियस के बीच उगता है।

मोगरा के फूल का रस त्वचा पर लगाने से झुर्रियां, दाग, धब्बे और पिम्पल्स कम हो जाती है। मोगरा के फूल का रास बाल पर लगाने से आपका बाल मुलायम हो जाता है।

नहीं, मोगरा का फूल बिलकुल भी जहरीला नहीं होता है। इसका इस्तेमाल कई बीमारियों से मुक्ति पाने के लिए किया जाता है।

जी हां, मोगरा के सुगंधित फूल आपके घर को सुगंध और मनमोहक खुशबू से भर देंगे।

मोगरा का फूल गर्मी के महीनों में अच्छी तरह से पनपता है।

मोगरे का फूल अच्छी सूर्य की रोशनी के नीचे लगाना चाहिए। वास्तु के अनुसार मोगरा के पौधे को घर के उत्तर या पूर्व दिशा में लगाना शुभ होता है।

Share this post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *